Home Satyasmee Mission 15 जून संत अण्णा हजारे जी के जन्मदिवस पर सत्यास्मि मिशन की...

15 जून संत अण्णा हजारे जी के जन्मदिवस पर सत्यास्मि मिशन की शुभकामनाएं:

100
0


15 जून 1937
जन्में अन्ना हजारे संत।
भिंगर कस्बा अहमदाबाद जिले में
भारतीय सेवक देशजन वंत।।
सेनिक बने देश के रक्षण
सन् 1963 हुए सेना अर्पण।
पंद्रह वर्ष तक सेवा दे सेना
विरक्त हुए देख शहीद संगी तर्पण।।
स्वेच्छित सेवा निवर्ति लेकर
लौटे अपने रालेगन सिद्धि गाँव।
शहीद सैन्य मित्रों के कारण
थी मनोदशा बड़ी विरक्ति भाव।।
तभी पड़ी द्रष्टि एक ग्रन्थ पर
पढ़ कर जिसे मिला समाधान।
विवेकानंद जीवन चरित्र पढ़
बढ़ा अंतर्मन आत्म सम्मान।।
विचार हुए दिव्यता बोधक
और देश के जन हित कार्य।
जीवन दूंगा अब इसी मार्ग पर
की मनुष्य सेवा है ईश्वरीय कार्य।
ब्रह्मचर्य के आजीवन व्रती
और खादी सनातन वस्त्रधारी।
ठहरे गांव के बाहर मंदिर
और प्रारम्भ की जनहित क्रांतिभारी।।
प्रारम्भ किया अपने गांव से
गोबर गैस सौर और व्रक्षारोपण।
गढ्ढे भरे नहर खुदवाई
जल एकत्र किया कृषि रोपण।।
शिक्षा निवास स्थल बनवाया
अपनी भूमि दे कर दान।
लगा अपना सेवानिवर्ति धन को
बने स्वाभलम्भी गामीण इस कल्याण।
शिव सेना भाजपा नेता पर
अधिक सम्पत्ति संग्रह लगाया आरोप।
सफल हुए पर प्रतिआरोप लग
मिला तीन माह कारावास कोप।।
पर छूट गए एक दिन रह बंदी
पुनः मांग की सुचना अधिकार।
इस समर्थन में की राज्ययात्रा
और जन जन पाया साथ अपार।।
बेठे द्रढ़ हो इसके हेतु
ग्यारह दिवसीय भूख हड़ताल।
सुचना अधिनियम पारित करवाया
इस सफलता हुए अन्ना विशाल।।
ऐसे अनेक काम है किये
जिनसे समाज का हुआ कल्याण।
आगामी नेतृत्व किया महाआंदोलन
जन लोकपाल विधेयक जनविधान।।
पाँच अप्रैल सन् दो हजार ग्यारह
राष्टव्यापी किया आंदोलन।
जंतर मंतर पर एकत्र हुआ जन
सरकार इन मध्य हुआ शक्तितोलन।।
इस राष्टव्यापि आंदोलन में
किरण बेदी जुड़े अरविंद केजरीवाल।
प्रशांत भूषण आदि ख्यातिप्राप्त जन
और जुड़ा सम्पूर्ण राष्ट जन बाल।।
मिली सफलता इस आंदोलन
पर कमियां रही अनेक प्रकार।
पर इससे आप सरकार बन उभरी
जिससे अन्ना हजारे रहे बहार।।
ये अहिंसा वादी संत हजारे
और भारतीय मराठा अन्ना वीर।
पद्म श्री पद्म विभूषण पुरुष्कृत
नित करते बन कल्याण जन हीर।
शुभ जन्मदिवस शुभकामना
दे रहा सारा भारत देश।
तुम सदा अमर जनसेवा समर
अन्ना हजारे प्यारे इस देश।।
?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here