Home Satyasmee Mission 15 मई विश्व परिवार दिवस पर सत्यास्मि परिवार की सभी को शुभकामनायें:

15 मई विश्व परिवार दिवस पर सत्यास्मि परिवार की सभी को शुभकामनायें:

16
0


विश्व एक कुटुम्ब है
और हम सब उसकी इकाई।
जात पात परे मनुष्य है
हम एक है प्रतिज्ञा खायी।।
जेसे शरीर एक है
और उसमें अंग भिन्न भिन्न।
वेसे ही सर्व जंतु जीव सहित
हम है एक विश्व परिवार अभिन्न।।
श्वेत काले सांवले
शरीर लम्बे मध्य और नीच।
रंगत आकृति विभिन्न हो
वृति अष्ट विकार सुकार संग बीच।।
प्रेम सदा उद्धेश्य हम
उसके प्राप्ति ढंग अनेक।
प्रवर्ति कारण अनन्य उपासना
आत्म भावना सदा है नेक।।
मूल में केवल तीन है
स्त्री पुरुष और बीज।
चहूँ और इन्हीं विस्तार है
एक दूजे प्रेम में रीझ।।
दादा दादी ताऊ चाचा
माता पिता भाई बहिन।
अनेक सम्बंध बन्धुत्त्व है
मिल विश्व परिवार एक रहन।।
मिटते जा रहे दिनों दिन
वो स्मर्णीय प्यारे पल।
मिटा जा रहा परिवार नाम
सिमट सिमट हर कल।।
भूले वो दादा दादी संग
घूमना गली शहर या गांव।
आते जाते मिलते जनों से
नमन कर पाते आशीष की छाँव।।
छुट्टी पड़ती गर्मी सर्दी
तब सब जाते अपने गांव।
देख सभी जन और परिजन
प्रसन्नता से उठते नांचते पांव।।
छूटती समाप्त तब लोट बताते
अपने सुख दुःख कटु अनुभव।
सीखते उन्हीं से व्यवहार अनेकों
सम्बंधों के सच्चे अर्थ अनुभव।।
शहरी ज्ञान पे ऐठ दिखाते
और गांव दीखता अपना मान।
सीख बढ़ती बैठ बड़ों संग
मिलता अपने वंश इतिहास का ज्ञान।।
सभी विषय प्रयोगिक होते
और सीखे कैसे उन्हें है करना।
जीवन उपयोगी ज्ञान मिला जो
वही साहस जीवन नित पग झरता।।
आज सिमट गए कोने है
कोई सुख ना पूछे दुःख।
अपनी अपनी सभी हांकते
सम्मान दिखावटी मात्र सब मुख।।
आज मात पिता रह गए अकेले
और समय काटते बीते पल।
उन्हें स्मरण कर दुखित है होते
सुख की चाह में मरते नित पल।।
जैसा बोया वेसा काटे
दुरी देकर मिली है दुरी।
आते नही है आश्वासन देते
और बताते सदा तरहां मजबूरी।।
जो मिलता है उसे लोट नही दो
तो बढ़ता नही है सुख।
जो एकत्र किया इस जीवन
वही बढ़ मिलता एकल दुःख।।
यो चेतो अपने अंदर झांको
और पहंचानो महत्त्व सम्बंध।
जोड़ो परिवार समय निकालो
खोलो गांठे रिश्तों की बंद।।
मिला ये जीवन प्रेम को
इसे व्यवसायिक नही बनाओ।
जिस व्रद्धि पीछे भाग रहे
उसे दुःखद अंत नही बनाओ।।
जीवन तो आना जाना है
उसमें भरो शुभ सम्बंधी रंग।
प्रेम प्रारम्भ प्रेम अंत
प्रेम साथ आये जाये मिल संग।
खोलो आँखे आज ही
परिवार को करो समय का दान।
सम्बंध कमाओं सदा प्रेम के
वही विश्व परिवार दिवस सम्मान।।
????‍?‍?‍??‍?‍?‍??‍?‍?‍??‍?‍?‍????
विश्व परिवार का एक नाम ईश्वर है
?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here