Home Good Morning भक्ति में शक्ति की आज घटित हुई एक भक्त की चमत्कारिक सच्ची...

भक्ति में शक्ति की आज घटित हुई एक भक्त की चमत्कारिक सच्ची कथा….

97
0

भक्ति में शक्ति की आज घटित हुई एक भक्त की चमत्कारिक सच्ची कथा….

सभी दोस्तों को जय सत्य ॐ सिद्धाये नमः,मैं मोहित जादौन, शायद आप सभी मुझसे परिचित होंगे। अब आते है मुद्दे पर,मुझे आज जब मैं अपनी दुकान पर कार्य मे लगा था तब सुबह यानी 14 मार्च 2019 को पहासू से एक कॉल 10:35am पर आई, जिसमें एक महिला जिसका नाम सीमा है,उसने बताया उसे स्तन केन्सर था।डॉक्टरों ने ऑपरेशन की सलाह दी थी, उसके स्तनों की गांठो में असहनीय दर्द रहता था,जिससे वह सो भी नही पाती थी इसी बीच अपनी इस समस्या के निवारण के लिए वो अक्सर भगवान से प्रार्थना करने पहासू में ही पानी की टँकी के नजदीक के बड़े शिव मन्दिर में जाती थी,उस दिन भी गयी,ओर वहाँ जाने पर इन्हें पूजा करने के लिए भगवान की चालीसा ढूंढी, जो कि अक्सर पुजारी जी थैली में रखी रहती थी,उस दिन पुजारी जी के थैले में उन्हें शिव चालीसा की जगहां,एक इर नई चालीसा मिली,वो बोली चलो इसे ही पढ़ लेती हूं,चूंकि वहाँ पुजारी जी नहीं थे,वो उस चालीसा को पढ़ने लगी,वो चालीसा पूर्णिमा चालीसा थी,पढ़ने के बाद उसे लगा कि मुझे इसके पढ़ने से बड़ी शांति मिली है,दर्द मे भी आराम हुआ है,यो उसने उसे पुजारी जी से ले जाने के लिए कहने की सोची,पर पुजारी जी वहाँ नहीं थे,तब थोड़ी देर इंतजार करके ओर ये भी सोचकर कि ये पुजारी जी अनपढ़ भी है,यो उनके लिए ओर भी चालीसा व पुस्तकों का कोई महत्त्व नहीं होता है,वे भक्तो में बांट देते है,यो ये सोचकर भी उन्होनो बिना पुजारी जी से पूछे ओर इंतजार किये,ओर भगवान से माफी मांग कर चालिसा अपने साथ ले गई, उनके पास कोई रास्ता भी नही था।इसलिये उन्होनो उस चालीसा के साथ साथ उस में लिखा मंत्र- सत्य ॐ सिद्धाये नमः ईं फट स्वाहा-का अपनी अंदर की प्रेरणा व ईश इच्छा और भक्ति से एक माला जाप यानी एक माला सुबह ओर एक माला शाम को जप प्रारम्भ कर दिया। आज उन्होंने मुझे उस चालीसा में लिखे मेरे फोन का नम्बर को देख कर,मुझे फोन पर बताया कि उनका दर्द और गांठ बिल्कुल गायब हो चुके है,उन्हें ऐसा करते हुए लगभग एक महीने से कम ही समय हुआ था,अब उन्होंने मुझसे स्वामी जी के दर्शनों की अनुमति ओर समय का बारे पूछते हुए,पता आदि मांगा। जिसके लिये मेने आवश्यक बाते व गुरु मंत्र दीक्षा लेने की बात बता दी गई है, जबकि वह एक बहुत बड़े सन्त से गुरुमन्त्र ले चुकी है काफी साल पहले,आज की यह घटना आपसे इसलिये साझा कर रहा हूँ,की उदाहरण के लिये अगर आप यह समझ कर जाप करे, कि अब इसके सिवा कोई और रास्ता नही,ओर साक्षात काल सामने खड़ा है, तो आपको अवश्य ही उस प्रकार का सुखद परिणाम मिलेगा।
इस विषय में अनेक प्रश्न का मन मे उदय होता है कि,
-हम तो अनेक माला जप करते है,फिर भी हमारे साथ ऐसा चमत्कार नहीं होता?
-हमने तो आशीर्वाद भी लिया तब भी ऐसा चमत्कार नहीं हुआ?
-तब केवल अनजानी महिला और नए मंत्र के साथ वो भी एक माला जप से कैसे ऐसा चमत्कार हुआ?
-आखिर हमारे से कहाँ चूक है?
पहले इस विषय पर अपना चिंतन करो,तब गुरु देव से ये प्रश्न करेंगे,ओर वे उसका आगामी लेख के माध्यम से उत्तर देंगे।

आपका गुरु भाई मोहित जादौन- 8923316611…

जय सत्य ॐ सिद्धायै नमः
www.satyasmeemission.org

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here